शासन के निर्देश का कड़ाई से पालन करें- कलेक्टर

बिलासपुर




बिलासपुर । पटवारियों को अपने मुख्यालय में प्रत्येक सोमवार और मंगलवार को अनिवार्य रूप से उपस्थित रहना है। शासन के इस निर्देश का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करें। सभी एसडीएम, तहसीलदार और नायब तहसीलदार इन दिवसों में अपने क्षेत्र के तीन-तीन पटवारी हल्कों का अनिवार्य रूप से निरीक्षण करें और अनुपस्थित पटवारियों पर कार्यवाही करें। कलेक्टर डॉ.संजय अलंग ने आज टीएल की बैठक में यह निर्देश दिया। 
मंथन सभाकक्ष में आयोजित बैठक में कलेक्टर ने सभी शासकीय कार्यालयों, नगरीय निकायों, सर्किट हाउस, रेस्ट हाउस में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, वर्तमान राज्यपाल और मुख्यमंत्री के फोटो अनिवार्य रूप से लगाये जाने का निर्देश किया। इसके अतिरिक्त भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्व. श्रीमती इंदिरा गांधी, स्व.राजीव गांधी, सरदार वल्लभ भाई पटेल के फोटो भी लगाये जाये। कलेक्टर ने भू राजस्व वसूली की समीक्षा करते हुए वसूली की स्थिति संतोषजनक नहीं होने पर नाराजगी जताई। कलेक्टर ने नये नियम के अनुसार डीएमएफ अंतर्गत विभिन्न कार्यों के प्रस्ताव बनाने का निर्देश खनिज विभाग के अधिकारी को दिया। 
हर गौठान का बनाया जायेगा प्रभारी अधिकारी
कलेक्टर ने सुराजी ग्राम योजना के तहत गांवों में बनाये गये हर गौठान के लिये प्रभारी अधिकारी बनाये जाने का निर्देश दिया। जिससे गौठानों का बेहतर संचालन किया जा सकेगा। ये अधिकारी गौठान की व्यवस्था के संबंध में प्रतिदिन रिपोर्ट देंगे। गौठानों में वर्मी कम्पोस्ट खाद निर्माण से होने वाले आय की मॉनिटरिंग करेंगे। उन्होंने बताया कि गौठान संचालन के लिये शासन द्वारा दस हजार रूपये दिये जा रहे हैं। उसके व्यय की मॉनिटरिंग भी प्रभारी अधिकारी करेंगे, साथ ही गौठानों में वृक्षारोपण सुनिश्चित करेंगे। प्रभारी अधिकारी को माह में कम से कम एक बार गौठानों का दौरा करना होगा। गौठान में गड़बड़ी या बंद पाये जाने पर जिम्मेदारी सुनिश्चित करने सभी जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देषित किया। 
बारी योजना के तहत उद्यानिकी विभाग द्वारा दस हजार सब्जी बीज मिनी किट किसानों को वितरित किये गये हैं। इन बीजों से किये जा रहे उत्पादन के संबंध में रिपोर्ट देने कहा गया है। कलेक्टर ने निर्देषित किया कि जिन गांवों में चारागाह नहीं हैं, वहां चारागाह विकास के लिये वन विभाग द्वारा केम्पा मद से राषि दी जायेगी। इस संबंध में कार्यवाही प्रारंभ करने का निर्देष दिया। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रितेष अग्रवाल ने मनरेगा अंतर्गत विभागों को कार्य का प्रस्ताव देने कहा। ताकि बरसात के बाद कार्य प्रारंभ किया जा सके। 
पोला और तीजा तिहार में होंगे विविध कार्यक्रम
कलेक्टर ने जिले में पोला और तीजा तिहार को परंपरागत रूप से मनाने हेतु विविध कार्यक्रम आयोजित करने का निर्देश अधिकारियों को दिया। पोला तिहार पर बैल दौड़ प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी। साथ ही तीजा तिहार के अवसर पर महिला बाल विकास विभाग द्वारा महतारी जतन योजना के तहत महिलाओं के लिये करूभात का आयोजन किया जायेगा। इन त्यौहारों पर विभिन्न स्थानो ंपर वृहद वृक्षारोपण करने का निर्देश दिया। 
राजस्व पखवाड़ा एक सितंबर से 31 अक्टूबर तक
कलेक्टर ने बताया कि जिले में एक सितंबर से 31 अक्टूबर तक राजस्व पखवाड़ा मनाया जायेगा। इसके लिये तैयारी प्रारंभ करने के निर्देष दिये गये।  




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *