पैकेज के बाद अशोक गहलोत बोल, गरीबों के खातों में पैसा ट्रांसफर करे केंद्र सरकार





जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने केंद्र के 20 लाख करोड़ के पैकेज के बाद कहा है कि अब गरीब को सहारा देने का वक्त है. सीएम ने इस मुद्दे पर ट्वीट करके अपनी राय जाहिर की. सीएम ने लिखा है कि, ‘केंद्र सरकार ने आर्थिक पैकेज की घोषणा शुरू की है. हमें इसके ब्यौरे और क्रियान्वयन के तरीकों का इंतजार है. अभी गरीबों, श्रमिकों, दुकानदारों और दिहाड़ी कामगारों को नकद पैसा देना समय की जरूरत है. सरकार गरीब लोगों के खातों में पैसा ट्रांसफर करे. गहलोत ने कहा कि, ‘नरेगा श्रमिकों को भी पैसा देना चाहिए, इससे इन लोगों की क्रय शक्ति बढ़ेगी और मांग पैदा होगी. इससे हमारी अर्थव्यवस्था और उद्योगों को गति मिलेगी.’

केंद्र सुनिश्चित करे कि MSME सेक्टर को बैंक बिना गारंटी कर्ज दें
सीएम ने लिखा,  MSME सेक्टर के लिए भी घोषणा की गई है, लेकिन इसे क्रियान्वित कैसे किया जाता है, इसे देखना होगा. MSME सेक्टर भारी परेशानी का सामना कर रहा है. उन्होंने कहा कि, ‘बैंक इस सेक्टर को गारंटी देने के बाद भी कर्ज नहीं दे रहे. अब भारत सरकार की घोषणा के मुताबिक बैंक बिना गारंटी कैसे कर्ज दे देंगे? केंद्र सरकार यह सुनिश्चित करे कि बैंक MSME सेक्टर को कर्ज दें, जैसे हमने MSME के लिए राज्य में किया. हम ऑर्डिनेंस लेकर आए, जिसके मुताबिक MSME को 3 साल तक किसी अनुमति की जरूरत नहीं है. केंद्र यह सुनिश्चित करे कि बैंक MSME सेक्टर को बिना गारंटी कर्ज दें.’

राज्य सरकारों को अब भी पैकेज का इंतजार: राजस्व मंत्री हरीश चौधरी
20 लाख करोड़ के केंद्रीय पैकेज की घोषणा का मंत्रियों और कांग्रेस नेताओं ने स्वागत किया है, लेकिन इसे लेकर कई सवाल भी उठाए हैं. राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने कहा, पैकेज का स्वागत है, लेकिन राज्य सरकारों को अब भी पैकेज का इंतजार है. बिना राज्यों को पैकेज दिए देश कैसे चलेगा? परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा, केंद्र सरकार हर व्यक्ति के खाते में 15 हजार रुपए डाले, मौजूदा पैकेज अपर्याप्त है. दो माह से रोजगार छोड़ घर बैठे लोगों को सीधे खाते में पैसे देने की जरूरत है. कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष अर्चना शर्मा ने कहा, जनता के जेब में सीधे पैसे डाले बिना अर्थव्यवस्था में मांग पैदा नहीं होगी. फिर भी देर आए, दुरस्त आए, पैकेज दिया लेकिन इसका क्रियान्वयन ढंग से हो.
 




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *