कमलनाथ सरकार के मंत्री ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए दी डिनर पार्टी, जानें कौन आया… किसने बनायी दूरी





भोपाल. कांग्रेस (Congress) के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के सम्मान में उनके समर्थक और मध्य प्रदेश के परिवहन एवं राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत (Govind Rajput) ने डिनर पार्टी का आयोजन किया. इस डिनर पार्टी (Dinner Party) में प्रदेश सरकार के मंत्री और विधायक भी शरीक हुए. खास बात यह रही कि इसमें बीएसपी और निर्दलीय विधायक भी शामिल हुए. जिससे इस भोज आयोजन के अलग-अलग राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं. इसे सिंधिया की प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष (MPCC) और राज्यसभा सांसद की दावेदारी के लिए शक्ति प्रदर्शन से जोड़कर देखा जा रहा है. हालांकि सिंधिया खुद इस बारे में कुछ नहीं बोले. उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि मैं यहां सबसे मिलने आया हूं.

डिनर पार्टी में सबने लिया ज़ायका
मंत्री गोविंद राजपूत की दी इस डिनर पार्टी में ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक सभी मंत्री मौजूद थे. इमरती देवी, प्रधुम्न सिंह तोमर, महेंद्र सिंह सिसोदिया, प्रभुराम चौधरी, तुलसी सिलावट सभी यहां नजर आए. इनके साथ बीएसपी की राम बाई और निर्दलीय विद्यायकों ने भी सिंधिया के साथ भोज का आनंद लिया.

कमलनाथ सरकार के मंत्री रहे मौजूद
इस भोज में कमलनाथ सरकार के मंत्रियों में से गृह मंत्री बाला बच्चन, ऊर्जा मंत्री प्रिय व्रत सिंह, नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह, आदिम जाति कल्याण मंत्री ओमकार सिंह मरकाम, कृषि मंत्री सचिन यादव, प्रदीप जयसवाल, कमलेश्वर पटेल और कांति लाल भूरिया भी नजर आए. लेकिन इस डिनर पार्टी में मुख्यमंत्री कमलनाथ, दिग्विजय सिंह, सुरेश पचौरी, आरिफ अकील, सज्जन सिंह वर्मा, जीतू पटवारी सहित अनेक बड़े नेता शामिल नहीं हुए. इस पर गोविंद सिंह ने कहा निजी काम के कारण ये सभी नेता पार्टी में शामिल नही हो सके. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में सभी एकजुट हैं. बीजेपी का काम हर मामले में सिर्फ राजनीति करना है.
 सिंधिया बोले- सबसे मिलने आया हूंज्योतिरादित्य सिंधिया ने डिनर पार्टी में कहा मैं यहां सबसे मिलने आया हूं. तीन महीने पहले भी आया था. इसके साथ ही सांसद केपी यादव के पिता को श्रद्धांजलि देने जाने के मसले पर उन्होंने कहा मेरे क्षेत्र में कहीं कुछ होता है तो मेरा वहां जाने का दायित्व है. किसी को अगर ऐसा लगता है कि नहीं जाना चाहिए तो यह भी स्वीकार है. वहीं सांसद केपी यादव के मंत्रियों को चमचा बोले जाने पर पलटवार करते हुए कहा राजनीति में मर्यादा होनी चाहिए. मैं संयम रखता हूं. राजनीति का स्तर होना चाहिए. मेरे पिताजी और मैंने हमेशा राजनीति में शुचिता का स्तर बनाए रखा.
 गेंदे और लिली के फूल से सजावट
 ज्योतिरादित्य सिंधिया के स्वागत में राजस्व और परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत का बंगला दुल्हन की तरह सजाया गया था. पूरे बंगले को गेंदे और लिली के फूलों से सजाया गया. चारों तरफ आकर्षक लाइटिंग की गई थी. बैठक व्यवस्था और डिनर एरिया को दो कैटेगरी में बांटा गया था. इसमें बैठक व्यवस्था और अनुशासन का खासा ख्याल रखा गया. गेट से अंदर आते ही विधायकों के बैठने की व्यवस्था की गई थी. इनके लिए डिनर का भी अलग से इंतजाम था. मुख्य द्वार के थोड़ा आगे अंदर गेट से वीआईपी और वीवीआईपी की एंट्री रखी गयी थी. छह महीने पहले प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट के बंगले पर आयोजित डिनर पार्टी में सिंधिया के बड़े-बड़े पोस्टर लगाए गए थे. लेकिन इस बार यहां पोस्टर और कट आउट जैसी कोई भी चीज नहीं दिखी.




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *